BREAKING NEWS -
Search




योगी के छठे कैबिनेट बैठक में फैजाबाद-अयोध्या और मथुरा-वृंदावन को मिली बड़ी सौगात

मंगलवार को योगी सरकार की छठी केबिनेट मीटिंग हुई जिसमें कई अहम फैसले लिए गए।प्रदेश सरकार ने फैजाबाद-अयोध्या और मथुरा-वृंदावन नगर पालिकाओं को अपग्रेड करके नगर निगम बनाने का फैसला किया है। सरकार के प्रवक्ता स‍िद्धार्थनाथ स‍िंह और श्रीकांत शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया, ”हमारी धार्मिक नगरी और धार्मिक शहराें को अहम सुविधाएं दी जाएंगी। इसके तहत फैजाबाद और अयोध्या को मिलाकर एक नगर निगम बनेगा। रोजगार और बिजनेस को बढ़ाने के लिए अयोध्या काे रेल और एयर कनेक्ट‍िव‍िटी से जोड़ेंगे। इसी तरह मथुरा-वृंदावन को भी डेवलप क‍िया जाएगा। उसे भी नगर निगम बनाया जाएगा। यमुना की सफाई के उचित प्रबंध क‍िए जाएंगे।”योगी के छठे कैबिनेट बैठक में  फैजाबाद-अयोध्या और मथुरा-वृंदावन को मिली बड़ी सौगात

योगी के छठे कैबिनेट बैठक में  फैजाबाद-अयोध्या और मथुरा-वृंदावन को मिली बड़ी सौगात

दोनों स्पोक्सपर्सन ने आगे बताया, ”फुटपाथ विक्रेता के ल‍िए 2004 के नियम के तहत उन्हें रेगुलर किया जाएगा। हमने यूपी पथ विक्रेता अधिनियम 2017 को लागू किया है, जिसकी खुद की कमेटी होगी।”
”नगर निगम के कम‍िश्नर इसके अध्यक्ष होंगे। एक तिहाई महिला और अनुसूचित जाति जनजाति को प्राथमिकता देंगे। पार्षद और पथ फुटकर विक्रेता के लोग भी सदस्य होंगे।”
” इसके अलावा स्टाम्प पंजीयन डिपार्टमेंट में परिवर्तन होगा। वहीं, डीआईजी और आईजी लेवल के अफसरों की कार्य क्षमता में परिवर्तन क‍िया जाएगा।”
कैबिनेट ने पटरी दुकानदारों के फेरी नीति को मंजूरी दी है। सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय फेरी नीति 2014 में बनाई थी। लेकिन पूर्व सरकार ने केंद्र सरकार की नीतियों को लागू ही नहीं किया। योगी सरकार किसानों, युवाओं और पटरी दुकानदारों की बेहतरी के लिए यह फेरी नीति लागू कर रही है। इसके लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा और पटरी दुकानदारों का रजिस्ट्रेशन होगा। यही कमेटी सारे फैसले लेगी।



Leave a Reply

Facebook