BREAKING NEWS -
Search




भारते के आधुनीकरण के लिए US तैयार,कहा- हर संभव मदद करेंगे हम

अमेरिका भारत की सेना को आधुनिक बनाने में मदद के लिए तैयार है। दोनों देश मिलकर भारत की सैन्य क्षमताओं में ‘अहम और सार्थक’ तरीके से सुधार कर सकते हैं। यह कहना है अमेरिका के एक शीर्ष कमांडर का।भारते के आधुनीकरण के लिए US तैयार,कहा- हर संभव मदद करेंगे हम।

भारते के आधुनीकरण के लिए US तैयार,कहा- हर संभव मदद करेंगे हम

पिछले एक दशक से भारत और अमेरिका के बीच रक्षा कारोबार करीब 15 अरब डॉलर के आंकड़े को छू चुका है और उम्मीद है कि आने वाले कुछ सालों में इसमें बहुत ज्यादा तेजी आएगी। ऐसा इसलिए संभव है क्योंकि भारत अमेरिका से कुछ नवीनतम मिलिटरी हार्डवेयर खरीदना चाह रहा है जिसमें फाइटर जेट्स, लेटेस्ट अनमैन्ड वीइकल और एयरक्राफ्ट कैरियर्स शामिल हैं।

यूएस पैसिफिक कमांड के कमांडर ऐडमिरल हैरी हैरिस ने कहा, ‘मैं मानता हूं कि अमेरिका भारत की सेना को आधुनिक बनाने में मदद करने को तैयार है। भारत अमेरिका का एक बड़ा रक्षा साझेदार है। यह रणनीतिक संबंध भारत और अमेरिका दोनों के लिए अद्वितीय है। यह भारत को उसी पायदान पर रखता है जिसपर हमारे कई दूसरे अहम सहयोगी हैं।’

भारत और अमेरिका के बीच प्रगाढ़ रक्षा संबंधों के लिए व्यक्तिगत तौर पर प्रयास कर रहे हैरिस ने कहा, ‘यह महत्वपूर्ण है और मेरा मानना है कि साथ मिलकर हम भारत की सैन्य क्षमताओं में महत्वपूर्ण व सार्थक तरीके से सुधार करने में सक्षम होंगे।’ ऐडमिरल ने कहा कि आज दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग का जो स्तर है, उससे वह काफी खुश हैं।

ऐडमिरल हैरिस ने कहा, ‘हम मालाबार सैन्य अभ्यास श्रृंखला में कई सालों से इंडिया के पार्टनर हैं। मैंने सबसे पहले सैन्य अभ्यास में हिस्सा भी लिया था जो 1995 में हुआ था।’ उन्होंने कहा कि वह बहुत खुश हैं कि जापान भी अब मालाबार सैन्य अभ्यास का हिस्सा है। ऑस्ट्रेलिया के भी अभ्यास में हिस्सा लेने की वकालत करते हुए ऐडमिरल हैरिस ने कहा, ‘मैं समझता हूं कि भारत, जापान और अमेरिका के बीच त्रिपक्षीय संबंध बहुत ही अहम हैं।’

 




Leave a Reply

Facebook