BREAKING NEWS -
Search




जीत के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने किया नागिन डांस

जीत के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने किया नागिन डांस, कोलंबो के आर. प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए बांग्लादेश-श्रीलंका के बीच निदाहास ट्रॉफी के छठे मुकाबले में कुछ ऐसा हुआ कि पूरी बांग्लादेश टीम ही डिस्कवालीफाई हो सकती थी.फाइनल मुकाबले के लिए कल हुए बांग्लादेश-श्रीलंका के बीच रोमाचंक मुकाबले में बांग्लादेश ने श्रीलंका को हराकर फाइनल में अपनी जगह बना ली है।

जीत के बाद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने किया नागिन डांस

निदाहास ट्रॉफी के आखिरी लीग मैच में बांग्लादेश और श्रीलंका के बीच मुकाबला काफी रोमांचक था। शुक्रवार को कोलंबो के आर. प्रेमादास स्टेडियम में हुए मैच के आखिर में फुल ड्रामा, कहासुनी और डांस देखने को मिला। दोनों टीमों के बीच मुकाबला काफी रोमांचक था। बांग्लादेश ने श्रीलंका को एक गेंद शेष रहते 2 विकेट से हराया और फाइनल में जगह बना ली।आपको बता दे की फाइनल ओवर में बांग्लादेश श्रीलंका के बीच हाई वोल्टेज ड्रामा देखने को मिला।

आखिरी ओवर में बांग्लादेशी कप्तान शाकिब अल हसन अचानक अपने खिलाड़ियों को वापस पविलियन बुलाने लगे। यही नहीं, इस दौरान बांग्लादेशी और श्रीलंकाई क्रिकेटरों के बीच जमकर बहस हुई।आपको बता दे की आखिरी ओवर मे बांग्लादेश को 12 रन बनाने थे लेकिन ओवर की शुरुआती दोनों बॉल कंधे से ऊपर थीं और फील्ड अंपायर ने नो-बॉल नहीं दिया। इसी वजह से बाउंड्री लाइन पर खड़े शाकिब अंपायर से भिड़ गए। शाकिब ने प्लेयर्स को वापस बुलाने का इशारा भी कर दिया। लगभग 10 मिनट तक चले इस घटनाक्रम का खात्मा किया बांग्लादेशी कोच ने। उनके समझाने के बाद शाकिब ने अपने प्लेयर्स को खेलने के लिए भेजा। जिसके बाद मैच के हीरो रहे महमूदुल्लाह ने एक गेंद शेष रहते छक्खा लगाकर बांग्लादेश को मैच जीता दिया.

मैच के हीरो रहे महमूदुल्लाह ने जैसे ही एक गेंद शेष रहते छक्खा लगाकर सबको हैरान कर दिया और फिर उसके बाद प्रेमादास स्टेडियम में फुल ड्रामा, कहासुनी और डांस देखने को मिला। जीत के बाद बांग्लादेश टीम ने विरोध जताते हुए नागिन डांस किया बांग्लादेशी खिलाड़ियों ने श्रीलंकाई टीम को चिढ़ाने के लिए मैदान में नागिन डांस किया और बाद में ड्रेसिंग रूम में जाकर तोड़फोड़ की थी। मामला बढ़ने पर इससे जुड़ी खबरें सबके सामने आई, जिस पर लोगों ने बांग्लादेशी टीम की कड़ी आलोचना की है। खुद बांग्लादेश के खिलाड़ियों ने इस बाबत महसूस किया और बाद में कहा कि उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए था।




Leave a Reply

Facebook